Simple Tips For Sound And Better Sleep 


Sleep is one of the important for human being, and is considered to be as important as diet in maintaining health and balance in the body. Sleep is the time when the body is able to repair and heal itself. The mind and emotions also become balanced through sleep.

कहते हैं अगर आपको नींद आती है तो आप बहुत खुशकिस्‍मत हैं। आयुर्वेद नींद दिलाने में भी मदद करता है।
आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी रात में ठीक से नींद आने की समस्या आम हो गई है। शिफ्ट में काम करने वाले इस समस्या से अक्सर जूझते हैं। शिफ्ट का समय बदलने से उनका पूरा रुटीन बदल जाता है। मानसिक तनाव व काम का दबाव भी अच्छी नींद नहीं ले पाने का कारण है।
अच्छी नींद बहुत जरूरी है हमारे लिए, यह सब जानते हैं। रात को नींद पूरी नहीं होने से आप दिन भर काफी थके रहते है और आपका किसी काम में मन नहीं लगता है। अच्छी नींद से आपका दिल और दिमाग भी स्वस्थग रहता है। गहरी नींद से शरीर खुद को तरोताजा करता है। ग्रोथ हार्मोन या एंटी एजिंग हार्मोन भी नींद के दौरान ही काम करते हैं। नींद पूरी नहीं होने पर आंखों के नीचे कालापन और बालों के झड़ने जैसी समस्याएं आने लगती हैं।

योगा व ध्यान करें !!
अगर कोई व्यक्ति नियमित रुप से योगा व ध्यान करता है तो उसे रात में नींद नहीं आने की समस्या होने की संभावना कम होती है। योगा आपके शरीर की थकान व तनाव को कम करता है जिससे आप अच्छी नींद ले सकते हैं।

सोने से पहले स्नान करें !!
आयुर्वेद के अनुसार सोने से पहले स्नान करने से अच्छीनींद आती है। अपने बाथ टब में बाथ सॉल्ट या लैवेंडर तेल का अर्क डालें और खुद को कुछ समय स्पाट को दें । आपको आराम महसूस होगा और अच्छी नींद आएगी।

चाय व कॉफी का परहेज जरूरी !!
सोने से पहले या शाम के समय ज्यादा कॉफी या चाय नहीं पीएं क्योंकि चाय और कॉफी में कुछ ऐसे तत्व होते हैं, जिनसे उत्तेजना बढ़ती है और मस्तिष्क को जागृत कर देती है। ऐसे में नींद नहीं आने की समस्या हो सकती है।

सोने का समय तय करें !!
अपने सोने व जागने का समय तय करें, इससे जब आपको आदत हो जाएगी तो अपने आप उस समय आपको नींद आने लगेगी। रात में ज्यादा देर तक नहीं जागें इससे नींद गायब हो जाती है इस कारण हानिकारक एडेरेनाइन हार्मोन का उत्पादन बढ़ जाता है। इसका नतीजा यह निकलता है कि आपको नींद ही नहीं आती है। तय समय पर खुद को सोने के लिए तैयार करें।

टीवी से जरा दूरी भली !!
सोने से आधे घंटे पहले टीवी व कंप्यूटर के पास नहीं बैठे क्योंकि टीवी और कंप्यूटर की स्क्रीन से आने वाली रोशनी हमारे शरीर को ये एहसास दिलाती रहती है कि अभी दिन है। इस कारण हमारा शरीर सोने के लिए तैयार नहीं हो पाता। सोने से पहले आप किताबें पढ़ सकते हैं।

म्‍यूजिक थेरेपी !!
संगीत में जादू होता है। ये मन की थकान को कम करता है, जिससे शरीर की थकान भी कम हो जाती है। सोने से पहले मधुर संगीत सुनें, नींद जल्दी आती है।

पंजो की मसाज करें
खुद को अच्छी नींद के लिए पंजो का मसाज भी करें। दिनभर की थकान के बाद जब आपके पैरों में मसाज किया जाता है तो इससे आपको आराम मिलता है और नींद अच्छी आती है।

Popular Posts